29 C
New Delhi
Monday, April 12, 2021

क्या आप बेचैन रहते हैं? कहीं ये किशोरअवस्था में ज्यादा पीने का नतीजा तो नहीं?

Humour

And these Jugaad simply deserve your applause!

Hacks aka Jugaad in India, but hey, it is not just the copyright of Indians to be good at Jugaad. There are many people...

These Memes about 90s will give you a dose of laughter, provided you lived the 90s!

The years gone by always end up giving you mixed feelings. It is not about time passed but how fast the world has changed...

#SanjuTrailer is out and it gives birth to another meme trail you will love!

The internet is not at all tired of praising Ranbir Kapoor's rather Sanjay Dutt's Sanju. The trailer has crossed 16 Million views in a day...

CBSE Class X results are the gold mine of memes, here are the best of the lot!

With anything major happening in our country the netizens are treated with whole lot of memes. No matter what kind of news it is,...
Team Khurki
Team Khurkihttps://khurki.net
KHURKI is a character who's sarcastic by birth and has sarcasm running in its veins in place of blood. Its bitter-sour tongue gives it the edge!


किशोरअवस्था में ज्यादा पीने से आपके दिमाक का विकास बाधित हो सकता है और किसी व्यक्ति की जीनस और उसके आचरण पर चिरस्थाई प्रभाव डाल सकताहै। ये एक भारतीय-अमरीकी मनोरोग चिकित्सक का कहना है।

शिकागो स्थित यूनीवर्सिटी ऑफ इलिनॉई में मनोरग चिकित्सा के प्रोफेसर सुभाष पांडे कहते हैं, “किशोरअवस्था में दिमाग को जो कनेक्शन स्थापित करने होते हैं वो लगातार शराब पीने के कारण नहीं हो पाते। जैसा विकास दिमाग का होना चाहिए वैसा हो नहीं पाता”।

न्यूरोबायलोजी ऑफ डिज़ीज़ में ऑनलाईन प्रकाशित इस शोध में पांडे और उनके सहयोगियों ने प्रायोगित चूहों का इस्तेमाल करते हुए विकास के किशोर कालीनचरण में शराब के सेवन के प्रभावों को जाना।

पांडे कहते हैं, “आमतौर पर किशोरअवस्था में दिमाग के विकास के लिए जीनस की जो क्रिया होती है वो शराब के संपर्क में आने से प्रभावित होती है। इन जीनस मेंबदलाव आने से वयस्कता में शराब की ललक और बेचैनी भरा आचरण होने का अंदेशा बढ़ जाता है”।

पांडे के मुताबिक ये व्यवहारवादी प्रभाव “एपिजेनेटिक” बदलावों की वजह से होते हैं। एपिजेनेटिक बदलाव डीएनए या फिर उसके इर्द-गिर्द प्रोटीन्स के केमिकल मोडिफिकेशन्स होते हैं। ये बदलाव कई प्रक्रियाओं को नियंत्रित करते हैं जिसमें किशोरअवस्था के दौरान दिमाग का विकास भी शामिल है।

इंसानों में ज्यादा पीने के प्रभावों को पढ़ने के लिए शोधकर्ताओं ने 28 दिन बड़े चूहों को दो दिन लगातार शराब दी और दो दिन बिना शराब के रखा। ये प्रक्रिया वो 13 दिनों तक दोहराते रहे। किशोरअवस्था में जिन चूहों को शराब दी गई उनमें व्यवहार में बदलाव देखा गया जो वयस्कता तक देखे गए, जबकि शराब का नशा बेहद समय पहले खत्म हो चुका था।

इन चूहों में बढ़ी हुई बेचैनी और वयस्कता में शराब के प्रति ज्यादा ललक देखी गई।  जब शोधकर्ताओं ने चूहों के एमिगडला नामक दिमाग के हिस्से से एक टिशू निकालकर विश्लेषण किया, तो पाया कि उनके डीएनए में भी बदलाव हुआ था।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Also From The Author

Twinkle Khanna Slammed For Posting A Pic Sitting On A Pile Of Books!

Twinkle Khanna aka MrsFunnyBones hits the headlines quite often. Almost all of the time, this is for good reasons; sometimes for her sarcasm &...

Actor Jonathan Crombie Dies At 48

Actor Jonathan Crombie, best known for his role of Gilbert Blythe in "Anne of Green Gables" TV movies, has died of a brain hemorrhage....

Origins Of Body Odour Decoded!

Scientists have identified a unique set of enzymes in a bacterium that is responsible for unpleasant body odour in humans. Body odour is caused by...

So, You Really Think You Can Dance? Check Out The Dance Moves..

So you really think you can dance?? Check out the dance moves in this video and I am so sure you wont be able to...